PCOD kya hai-पीसीओडी क्या है? | Explain in hindi

PCOD(पीसीओडी)kya hai-PCOD क्या है? 

pcod kya hai

आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे PCOD क्या है,आज के समय में आपने pcod के बारे में जरूर कहीं न कहीं सुना होगा की उसे pcod हो गया है,वो बहुत परेशान है इसके कारण ऐसा आपने सुना होगा! आखिर ये है क्या,इससे क्या होता है इसके बारे में आज हम जानेंगे,तो चलिए सुरु करते है !

PCOD(पीसीओडी) का फुल फॉर्म –

Polycystic Ovarian Disease होता है!

PCOD क्या है –

पीसीओडी एक बीमारी है जो कि महिलाओं में पाई जाती है! और यह बीमारी अब तेजी से बढ़ती जा रही है,अब ये बीमारी लड़कियों में भी पायी जा रही,यह बीमारी महिलाओं को शारारिक और मानसिक रूप से परेशान करती है! हार्मोनल संतुलन में न होने के कारण ओवरी में छोटी छोटी गाँठ बन जाती है,जिससे की बॉडी मेल हॉर्मोन बढ़ने लगती है जिसके वजह से चेहरों के बाल बढ़ने लगते है इसके कारन लड़कियों को periods में भी काफी problems होती है,फिर उन्हें माँ बनने में भी कई सारे परेशानियों का सामना करना पड़ता है!

PCOD बीमारी क्यों होती है –

यह बीमारी होने की कोई एक वजह अभी तक सामने नहीं आयी है पर experts का कहना है आज कल के लाइफस्टाइल में बदलाव इस बीमारी का एक कारण है जैसे की देर रात सोना सुबह देर से उठना,टाइम टेबल से खाना नहीं खाना और आज कल की लड़कियां शराब सेवन भी करने लगी है,जैसे कई सारे कारणों से यह बीमारी होती है जिसके कारण शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक रूप से बीमार होने का खतरा होता है,इसे हम PCOS(Polycystic Ovary Syndrome) भी कहते है !  

पीसीओडी का लक्षण –

symptoms

पिसीओडी बीमारी होने के कई सारे लक्षण है:-

  • चेहरे या शरीर के किसी और अंग में बाल आना 
  • periods के टाइम बहुत ज्यादा दर्द होना या ब्लीडिंग होना
  • periods समय से न होना,कभी जल्दी तो कभी देर आना भी इस बीमारी का एक कारण है
  • लगातार वजन बढ़ना
  • बालो का पतला होना या बालो का तेजी से जड़ना
  • pregnancy के समय प्रॉब्लम होना   

 

इतने सारे लक्षण हो सकते है यह बीमारी होने के और अगर आपको इन में से कोई भी लक्षण आपको दीखता है तो आप तुरंत किसी अच्छे डॉक्टर से checkup कराये क्यों की बाद में जा कर आपको और भी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा उससे अच्छा है की आप सुरुवात में ही इसे ठीक कर ले!

 PCOD से बचने के उपाय –

pcod

  • अपने वजन को नियंत्रित रखे,न ही ज्यादा न ही कम होना चाहिए !
  • डॉक्टर से हमेसा जांच कराते रहे,ताकि कोई भी बीमारी बढ़ने से पहले ही ठीक हो जाये !
  • Daily कम से कम 30min exercise जरूर करे ताकि आप स्वस्थ रह सके और आपको pcod जैसे बीमारी न हो ! 
  • अधिक से अधिक सब्जियों एवं फलो का सेवन करें !
  • junk और oily food का सेवन कम करे !

इस प्रकार आप PCOD बीमारी से बच सकते है अगर आप सही ढंग से इसको फॉलो करते है तो ! 

Conclusion-

ये बीमारी आजकल आम हो चुका है और ये अब 16-17 age वाली लड़कियों में भी देखा जा रहा है! ये काफी चिंता की बात है,और सबसे बड़ी बात ये बीमारी होने का ठोस कारन अभी तक डॉक्टर्स ढूंढ नहीं पाए है,पर एक्सपर्ट का कहना है की सही ढंग से खान पान का सेवन न करने से,बहार का खाना (junk और oilyfood) खाने से इसके होने का संभावना बढ़ जाता है!

तो आप कोशिश कीजिए सही खाने का सेवन करे हरे हरे सब्जियां और फल खाये,कम से कम 30min रोज exercise करे,गलत चीज़ो का आदत न डाले जैसे की शराब,सिग्रेट से दूर रहे!अगर आप में इस बीमारी का कोई भी लक्षण दिखता है तो तुरंत डॉक्टर से जाँच कराये !

अगर आपको ये पोस्ट पढ़ कर कुछ जानकारी मिला तो जरूर शेयर करे और हाँ कमेंट करना न भूले!

धन्यवाद !!

 

 

निचे दिए गए पोस्ट भी पढ़ सकते है

DM full form-DM से जुड़ी साड़ी बातें

Businessman Vs Entrepreneur | Explain in Hindi